How to Get a World-Class Education for Free on the Internet

Whether you’re seeking new employment mid-career, or curious about alternatives to college, take advantage of these online resources. Coursera Udacity edX Alison Khan Academy Harvard Extension’s Open Learning Initiative Carnegie Mellon’s Open Learning Initiative MIT OpenCourseWare Open Yale Courses Duolingo Project Gutenberg Open Library OverDrive Libby Google Books Codecademy Free Code Camp HackerRank TED Talks …

Supplements and Supplement Industry

As you know that scientists have an important role in making these supplements. But packaging, marketing, promotion and selling of these supplements are done by business houses. As we know, the only aim of these business houses is to earn profit. In this article, we will discuss those methods used by these companies to sell their supplements for more and more profit. By understanding these methods, you will learn how to choose good supplements for you.

श्री नरेंद्र मोदी के सन्दर्भ में नास्त्रेदमस की भविष्यवाणी

आज से लगभग 500 वर्ष पहले फ्रांस में 1555 ईस्वी में जन्मे नास्त्रेदमस नाम के व्यक्ति ने लगभग 1200 भविष्यवाणियां लिखी थी। उनमें से आधी से ज्यादा लगभग पूरी सच साबित हो चुकी है। उनके द्वारा लिखी गई भविष्यवाणियों में तीन भविष्यवाणियां मई 2019 में एक साथ पूरी हुई है। नास्त्रेदमस ने लिखा था कि मोदी नाम का एक व्यक्ति भारत का सम्राट बनेगा। भारत के दक्षिण में समुंदर के नजदीक हिंद महासागर के पास हिंदू धर्म में पैदा होगा और हिंदू धर्म की लोकप्रियता लगातार बढ़ेगी। मोदी 2026 ईस्वी तक राज करेगा तथा 2024 ईस्वी के बाद चुनाव की आवश्यकता नहीं होगी।

सबरीमाला मंदिर पर कुछ विचार

नमस्ते । मैं सबरीमाला मंदिर के विषय में नहीं लिखना चाहता था । मुझे लगता था की हिन्दुओं को इस विषय में पहले से पता है और जो हिन्दू नहीं हैं उन्हें इस जानकारी में कोई रूचि नहीं है। लेकिन जब पिछले कुछ दिनों में, कुछ हिन्दू मित्रों ने इस विषय पर मुझ से पूछना शुरू किया तो मुझे समझ आया की एक सामान्य हिन्दू व्यक्ति को धर्म का इतना ज्ञान नहीं है की वह धर्म से संबंधित निर्णय ले सके और समझ सके की क्या सही है और क्या गलत है ।

Is Social Media Destroying Our Quality of Mind?

I had been writing my own thoughts in my diary for long, sometimes on my blog too. Blogging was so much popular in between 2004 to 2014. Here blogging means... sharing one's own thoughts... not just these review sites about technology, movies, books, political parties, economy etc which are full of useless advertisements and popups. It …